दिल्‍ली – लोधी रोड – वैज्ञानिक एवं अभियंता प्रभाग द्वारा दी आर्ट ऑफ सेल्‍फ इंजीनियरिंग (The Art of Self Engineering) अभियान का शुभारम्‍भ

दुनिया का सबसे विशेष इंजीनियरिंग उत्‍पाद मानव शरीर है। जब आप आत्मा का अनुभव करेंगे तभी आप सेल्‍फ इंजीनियरिंग को समझेंगे। विश्‍व का सबसे बड़ा इंजीनियर तो भगवान है। आज हमें अपने आप को ईश्‍वर से जोउ़ने की आवश्‍यकता है। यही सेल्‍फ इंजीनियरिंग है। इसी से हमारे जीवन में सुख, शांति, आनंद एवं प्रेम की अनुभति होगी। उक्‍त विचार श्री दुर्गा शंकर मिश्र, आईएएस, सचिव, आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय, भारत सरकार ने मुख्‍य अतिथि के रूप में बोलते हुए कहे।

विज्ञान ने हमें बाहरी रूप में बहुत कुछ दिया है लेकिन मन की शांति हमसे दूर हो रही है। हम चाहें तो अपनी सभी समस्याओं का समाधान स्‍वयं निकाल सकते हैं। इसके लिए कुछेक क्षण निकाल कर हमें एकांत में बैठने की आदत डालने की आवश्‍यकता है। यह विचार डा वी.पी. जॉय, आईएएस, महानिदेशक, हाइड्रोकार्बन महनिदेशालय ने अतिथि विशेष के रूप में बोलते हुए व्‍यक्‍त किेये।

2019 के इंजीनियर दिवस का विषय इंजीनियर परिवर्तन के वाहक है। इस उद्देश्‍य की प्रप्ति हेतु हमें सेल्‍फ इंजीनियरिंग की जरूरत है। हमें अध्यात्म में रुचि जाग्रत करनी है। भारतीय संस्कृति में भी ऐसा बताया गया है। दिल, दिमाग और हाथ में सांमजस्‍य हो तभी सेल्‍फ इंजीनियरिंग हो सकती है। हम दूसरों को तो दोषी ठहराते हैं लेकिन अपने आप को नहीं देखते। हमें जीयो और जीने दो के सिद्धांत का अपनाने की आवश्‍यकता है। हम सदैव अपने आंतरिक स्‍वभाव को शांत बनाये रखें। जब हम अपनी सोच को बदलेंगे तभी दूसरों की सोच बदलेगी। इससे संसार में शांति रहेगी। यह विचार राजयोगी मोहन सिंघल, अध्‍यक्ष, वैज्ञानिक एवं अभियंता प्रभाग ने मुख्‍य प्रवचन देते हुए कहे।

राजयोगी भ्राता बीके बृजमोहन, अपर महा सचिव, ब्रह्माकुमारीज ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि हमें स्‍वयं का सुधारने के लिए मूल ज्ञान चाहिए। दुनिया की कोई चीज अपने लिए नहीं बनी है अपतिु दूसरों के लिए है। दुनिया की चीजों का हम उपयोग कर सकते हैं लेकिन उनके मालिक नहीं बन सकते। चीजें इकट्ठी करने से सुख नहीं मिलता। एक ही चीज सुख भी दे सकती है और दुख भी दे सकती है। हमारे अंदर देने की भावना होगी तभी हम प्रसन्‍न रह सकेंगे।

बीके जवाहर मेहता, राष्‍ट्रीय संयोजक, वैज्ञानिक एवं अभियंता प्रभाग ने भी अपने उद्गार प्रकट किए। बीके गिरिजा बहन, संचालिका, लोधी रोड केन्‍द्र ने सभी अतिथियों का स्‍वागत किया। बीके पीयूष भाई, जोनल कोआर्डीनेटर, वैज्ञानिक एवं अभियंता प्रभाग ने कार्यक्रम का सफल संचालन किया एवं प्रतिभागियों को राजयोग का गहन अभ्‍यास भी  कराया। यह कार्यक्रम दिल्‍ली लोधी रोड स्थित इंडिया इंटरनेशनल सेंटर सभागार में आयोजित किया गया।

 

दिल्ली – लोधी रोड – विशिष्ट व्यक्तियों को बीके गिरिजा बहन द्वारा पवित्रता का प्रतीक रक्षासूत्र बाँधा गया :

दिल्ली – लोधी रोड – विशिष्ट व्यक्तियों को बीके गिरिजा बहन द्वारा पवित्रता का प्रतीक रक्षासूत्र बाँधा गया :

1. श्री पी एस खरोला, आईएएस, सचिव, नागर विमानन मंत्रालय, भारत सरकार
2. श्री नागेंद्र नाथ सिन्हा, आईएएस, अध्यक्ष, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण(एनएचएआई), भारत सरकार
3. श्री अनुज अग्रवाल, अध्यक्ष, एयरपोर्टस अथॉरिटी ऑफ इंडिया
4. श्रीमती ऊषा पाढी, आईएएस, संयुक्त सचिव, नागर विमानन मंत्रालय, भारत सरकार
5. डॉ मृत्युंजय महापात्र, महानिदेशक, मौसम विज्ञान विभाग, भारत सरकार

Invitation for upcoming Scientists and Engineers Wing (SEW) seminar in Mt. Abu.

Delhi – Lodhi Road – Indraprastha Gas Ltd., Managing Director was called upon and extended an invitation for upcoming Scientists and Engineers Wing (SEW) seminar in Mt. Abu. He was also apprised of SEW services by BK Piyush, Zonal Coordinator, SEW.

Delhi – Lodhi Road – Today Sh Gurdeep Singh, CMD, NTPC Ltd. (A Maharatna Company of Govt. of India) was invited for upcoming Scientists and Engineers Wing (SEW) seminar in Mt. Abu. He was also apprised of SEW services by BK Piyush, Zonal Coordinator, SEW.

 

दिल्ली – लोधी रोड – वैज्ञानिक अभियंता प्रभाग के ज्ञान सरोवर में होने वाले सम्मेलन के लिए आमंत्रण

दिल्ली – लोधी रोड –
1.आज श्री बीवीएन प्रसाद, सीएमडी एवं श्री एस शक्तिमणि, निदेशक, सीमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (सीसीआई) को वैज्ञानिक अभियंता प्रभाग के ज्ञान सरोवर में होने वाले सम्मेलन के लिए आमंत्रण दिया एवं प्रभाग की गतिविधियों के बारे में भी बताया गया।
2. एमएमटीसी लिमिटेड के नवनियुक्त निदेशक को बधाई दी, मधुबन का निमंत्रण दिया एवं विंग की गतिविधियों से अवगत कराया।

 

Lodhiroad :International Day of Yoga

दिल्ली – लोधी रोड – 5 वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में 1. एनएफएल, 2. पीएफसी लि., 3. बीएमटीपीसी, 4. इरकॉन इंटरनेशनल 5. आईआरसीटीसी 6. डीडीए 7. नेशनल आर्काइव्स अॉफ इंडिया जैसी सरकारी दिग्गज कंपनियों में कार्यशालाऐं आयोजित हुई।

Delhi – Lodhi Road – Sh. S. K. Mishra, newly appointed Secretary, Railway Board,

.


Delhi – Lodhi Road – Sh. S. K. Mishra, newly appointed Secretary, Railway Board, M/o Railways was greeted and also apprised Transport wing activities by BK Piyush and BK Deepika

Rajyoga Meditation Course

 संसार का हर मनुष्य सुख–शांति की तलाश में रोज मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरूद्वारे में गुहार लगा रहा है। पूजा, पाठ, आरती, व्रत, उपवास, तीर्थ आदि धक्के खा खाकर इंसान थक गया है लेकिन सुख शांति आज भी कोसों दूर है.. बल्कि दुख, अशांति बढ़ती जा रही है, इसका एकमात्र कारण है देह अभिमान में वृद्धि होना और इन सब समस्याओं का एकमात्र निवारण और सुख, शान्ति का एकमात्र रास्ता स्व आत्मा का ज्ञान और परमात्मा की सही पहचान । इसी सत्य ईश्वरीय ज्ञान से और ईश्वर प्रदत्त राजयोग मेडिटेशन से सच्ची सुख, शान्ति का खजाना सहज ही मिल जाता है और सारा जीवन तनाव मुक्त होकर खुशहाल हो जाता है।”

जिसमें प्रात: 10 से 12 एवं संध्या 5 से8 बजे तक राजयोग मेडिटेशन का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा